सेंसेक्स के 53 हजार पर पहुंचने की रफ्तार धीमी

बेंचमार्क सेंसेक्स मंगलवार को पहली बार 53,000 के पार निकला। इंडेक्स ने 53,057 के सर्वोच्च स्तर को छू लिया, लेकिन अंत में 52,589 पर बंद हुआ। आखिरी 1,000 अंक का फासला तय करने की रफ्तार पिछले 10 के मुकाबले धीमी रही है। 30 शेयरों वाला इंडेक्स पहली बार 15 फरवरी, 2021 को 52,000 के पार निकला था। लेकिन उसके बाद कोविड महामारी की दूसरी लहर के कारण हुआई बिकवाली से 9 फीसदी से ज्यादा टूटकर 48,000 से नीचे आ गया। इसके परिणामस्वरूप 52,000 से 53,000 अंकोंं की यात्रा तय करने में 85 दिन लग गए। इससे पहले 51,000 से 52,000 अंकों का सफर सेंसेक्स ने फरवरी में महज छह कारोबारी सत्र में तय किया था और तब बाइडन के अमेरिका के राष्ट्रपति बनने के बाद शेयर बाजार की तेजी पर वैश्विक जोखिम था। 42,000 से 43,000 का सेंसेक्स का सफर 205 दिन में पूरा हुआ था क्योंंकि मार्च 2020 में कोरोना महामारी के प्रसार के कारण हुई बिकवाली से इंडेक्स फिसलकर 26,000 से नीचे आ गया था।